26 फरवरी, 2020|3:14|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में दो माह में खुले 250 प्रदूषण जांच केंद्र

परिवहन विभाग द्वारा नियमों में बदलाव किए जाने के बाद जिलों में वाहन प्रदूषण जांच केंद्रों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। करीब दो माह में 250 प्रदूषण जांच केंद्र खोले गए हैं। वहीं अब तक राज्यभर में 13 लाख 12 हजार 752 लोगों ने अपने वाहनों का प्रदूषण जांच सर्टिफिकेट बनवाया है। हर प्रखंड वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोले जाएंगे। इसके साथ ही पेट्रोल पंप, वाहन विक्रय केंद्र एवं सर्विस सेंटर में भी केंद्र खोलने के प्रोत्साहित किया जाएगा। चलंत प्रदूषण जांच केंद्रों की स्थापना के लिए भी  प्रावधान किये गये हैं ताकि अधिक से अधिक वाहनों की जांच की जा सके।

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि हर जिले के प्रखंडों में वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने का लाइसेंस जिला परिवहन पदाधिकारी दे रहे हैं। अब तक यह अधिकार राज्य परिवहन आयुक्त के पास था। मोटर वाहनों के प्रदूषण जांच के लिए राज्य में अब तक कुल 734 प्रदूषण जांच केंद्र खोले गए हैं। अब नए केंद्र खोलने में लोगों को काफी सहूलियत हो रही है। अब इंटर (साइंस) पास व्यक्ति भी वाहन प्रदूषण जांच केंद्र चला सकते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।
  • Web Title:250 pollution check centers open in two months in Bihar