18 सितम्बर, 2020|11:46|IST

अगली स्टोरी

दर्दनाक: बेरोजगारी से परेशान पिता ने की दो बच्चों की गला घोंटकर हत्या, फिर मेट्रो के आगे कूदकर की खुदकुशी

राजधानी के शालीमार बाग इलाके में रविवार (9 फरवरी) रात दो बच्चों की गला घोंटकर हत्या करने के बाद एक शख्स द्वारा मेट्रो के आगे कूदकर खुदकुशी करने की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। प्रारंभिक जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि हत्यारोपी पिता की कुछ दिनों से बेरोजगार था। इस कारण उसकी आर्थिक हालात ठीक नहीं थी। इस बात को लेकर वह परेशान था और डिप्रेशन में चल रहा था। इस आधार पर यह आशंका जताई जा रही है कि आर्थिक तंगी से परेशान होकर उसने यह कदम उठाया है। बहरहाल पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच आरंभ कर दी है। आरोपी की पत्नी से पूछताछ कर मामले की जांच की जा रही है।

रोकी गई मेट्रो
उधर आरोपी पिता द्वारा खुदकुशी किए जाने की घटना के बाद स्टेशन पर अफरा-तफरी मच गई। स्टेशन पर तैनात सुरक्षा कर्मियों ने उसके शव को पटरी से बाहर निकाल और अस्पताल पहुंचा दिया। इस कारण कुछ देर के लिए मेट्रो सेवा को भी रोकना पड़ा। जिससे लोगों को कुछ देर तक स्टेशन पर ही इंतजार करना पड़ा। 

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने इस घटना को लेकर ट्वीट भी किया है। ट्वीट में लिखा है, 'हैदरपुर बादली मोड़ पर यात्री के पटरी पर आने की वजह से समयपुर बादली से जीटीबी नगर के बीच मेट्रो रेल सेवा में देरी हुई।'

करीब 15 मिनट बाद डीएमआरसी ने एक और ट्वीट कर बताया कि सेवाएं बहाल कर दी गई हैं। दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन दिल्ली के समयपुर बादली को गुरुग्राम के हुडा सिटी सेंटर से जोड़ती है। 

जानकारी के मुताबिक शालीमार बाग इलाके के बीजी कॉलोनी में मधुर मलानी अपनी पत्नी रुपाली और दो बच्चों के साथ रहता था। रविवार देर शाम उसकी पत्नी रुपाली घर का कुछ सामान लेने के लिए बाजार गई ‌हुई थी। इस दौरान मधुर अपने बेटे श्रेयांश (6) और बेटी समीक्षा (14) के साथ घर पर ही था। शाम करीब साढ़े  छह बजे रुपाली बाजार से वापस आई तो घर का दरवाजा खुला हुआ था। यह देखकर वह सीधे कमरे में पहुंची तो उसने देखा कि उसके दोनों बच्चे अचेत हालत में बिस्तर पर पड़े थे। इसके बाद उसने अपने पति मधुर को आवाज दी तो उसका कुछ पता नही चला। उसने बाहर जाकर देखा तो वह आसपास के इलाके में भी नहीं मिला।

उधर बच्चों की तरफ से कोई हरकत नहीं होने पर उसने पड़ोसियों को इसकी जानकारी दी। पड़ोसियों ने मामला संदिग्ध लगने पर घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों बच्चों को पास के निजी अस्पताल में पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बच्चों के गर्दन पर दबाने का निशान साफ तौर पर झलक रहा था, जो हत्या की ओर इशारा कर रहे थे। पुलिस ने रुपाली से पति मधुर के बारे में पूछताछ कर ही रही थी कि इसी बीच हैदरपुर मेट्रो पर मधुर के छलांग लगाकर खुदकुशी करने की सूचना आई। पुलिस ने मामले की छानबीन की तो पता चला कि मधुर ने बच्चों की हत्या करने के बाद मेट्रो स्टेशन पहुंचकर खुदकुशी कर ली। शुरुआती जांच में पता चला क‌ि मधुर लंबे वक्त से बेरोजगार था, जिसकी वजह से वह डिप्रेशन में था। शालीमार बाग पुलिस ने हत्या व खुदकुशी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी ह‌ै।

पिता द्वारा बेटे की हत्या करने करने की घटनाएं
* 19 सितम्बर, 2017- जामिया नगर में पिता ने बच्ची को नाले में फेंक कर मार डाला।
* 27 अगस्त, 2016- समयपुर बादली में एक शख्स ने दो साल के बच्चे को नहर में फेंक की हत्या। नशे के लिए रखी रकम बच्चे पर खर्च करना था कारण।

एक चौथाई हत्या में अपने हैं आरोपी
हत्या के ज्यादातर मामलों में अपनों के शामिल होने की बात सामने आई है। इसमें ज्यादातर पारिवारिक रिश्ते वाले हैं या फिर करीबी जानकार। आपसी रंजिश में में अपनों की हत्या करने का प्रतिशत करीब 25 फीसदी है।

रंजिश में 23 फीसदी हत्याएं
आंकड़ों की मानें तो दिल्ली में होने वाली कुल हत्याओं में से करीब 24 फीसदी आपसी रंजिश के कारण होती हैं। दिलदार दिल्ली व दिलवालों की दिल्ली सहित न जाने और किन-किन नामों से पुकारे जाने वाले दिल्लीवासियों में आपसी रंजिश का भाव तेजी से बढ़ता जा रहा है और इस कारण हत्या की घटनाओं में भी साल-दर-साल इजाफा होता जा रहा है।

लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।
आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।
  • Web Title:Man did suicide on delhi metro railway track